भोपाल। नेहरू नगर स्थित प्राचीन नवग्रह शनि मंदिर में 108 कुण्डीय अखण्ड शनि महायज्ञ निरन्तर जारी है। महायज्ञ के चलते काले घोड़े की नाल वाली अँगूठियाँ सिद्ध की जा रही है। मंदिर के संस्थापक एवं यज्ञाचार्य पं. गजेन्द्र शास्त्री ने बताया कि जिन जातकों की राशि में शनि की साढ़े साती, अढैया, राहू एवं केतु की दशा चल रही है, उन्हें काले घोड़े की नाल वाली अँगूठी धारण करने से विशेष राहत मिलती है, जबकि सामान्य जातकों को इसके धारण करने से धन लाभ और रोगनाश के योग बनते हैं। लिहाजा मंदिर में यज्ञ स्थल पर अँगूठी सिद्ध कराने वाले जातकों का तांता लग रहा है। पंडित शास्त्री ने आगे बताया कि अखण्ड महायज्ञ में विभिन्न कार्यक्रमों के चलते आज से रोजाना शाम 7 बजे महाराज वैभव भटेले द्वारा रामकथा एवं शनि कथा पर आधारित प्रवचन देंगे। शनि महायज्ञ में 51 ब्राह्मणों द्वारा ऊँ शनि शनिश्चराय नमः के साथ चैबीसों घण्टे निरन्तर आहूतियाँ दी जा रही हैं। आहूतियाँ देने वाले ब्राह्मणों का कहना है कि शनि महायज्ञ में आहूति देने से सुख शांति और वैभव की प्राप्ति होती है।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से अशोक सक्सेना, अध्यक्ष, शिवमनि मारण, आलोक चौधरी, सुशीला जाधव, पुष्पा शर्मा, पं. भविष्य शर्मा, अमित शर्मा, निर्मल बैरागी, कन्हैया बैरागी, आनन्द हरि शर्मा दीक्षान्त गोस्वामी, रेखा सुरेश सेन सहित सैकड़ों की संख्या में स्थानीय श्रद्धालुगण उपस्थित थे। मुख्य यजमान के रूप में कैलाश मेहरा, ज्योति मेहरा रहे।