रायपुर। अब अपराधियों की खैर नहीं। पुलिस विभाग ने इसके लिए कमर कस ली है। आउटर के थाना क्षेत्रों में गश्त के लिए थाना प्रभारियों को पुलिस मुख्यालय से बुलट बाइक दी गई है। अब थानेदार साहब 'बुलट राजा' बन थाना क्षेत्र में दबदबा बनाएंगे। बुलट के जरिए अब तंग गलियों में भी थानेदार आसानी से पहुंचकर नजर रख सकेंगे। अभी उरला के अलावा तीन अन्य थाने को बुलट दी गई है।

कामकाज में कसावट लाने की तैयारी

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस मुख्यालय ने प्रदेश के अन्य जिलों के आउटर थानों को भी बुलट उपलब्ध करा दी है। इसका मुख्य उद्देश्य कामकाज में कसावट लाना बताया जा रहा। कई बार पुलिस पेट्रोलिंग चार पहिया वाहन को घटना स्थल पर पहुंचने समय लगता है। इसे देखते हुए यह कदम उठाया गया है।

आउटर थाने में की गई है शुरुआत

छत्तीसगढ़ पुलिस मुख्यालय ने शुरुआत में शहर के चार आउटर थाने के प्रभारियों को गश्त के लिए बुलट दी है। जरूरत को देखते हुए आगे और भी थानों के लिए मांग की जाएगी। थाना प्रभारियों को बाइक मिलने से वे हर जगह गश्त में अकेले भी पहुंच सकेंगे। -आरिफ एच. शेख, एसएसपी रायपुर

 

घटना स्थल तक तत्काल पहुंचने में मिलेगी मदद

आउटर के थानों में दी गई बुलट निश्चित ही घटना स्थल तक जल्द पहुंचने में मदद करेगी। वहीं संकरी गलियों में आसानी से गश्त कर सकते हैं। अपराधियों तक तत्काल पहुंचने में भी मदद मिलेगी। यह विभाग की अच्छी पहल है। इसका फायदा मिलना भी शुरू हो गया है। -रविशंकर तिवारी, थाना प्रभारी उरला रायपुर