Thursday, 19 October 2017, 11:07 AM

फ़िलहाल

फिर भी प्रेम से बोलो भारत माता की जय

Updated on 24 May, 2015, 12:57
अभी इसी महीने हमने मदर्स डे मनाया। सोशल मीडिया में मातृभक्ति का ऐसा उफान आया जैसे कि विह्रलता के आंसू सारी कायनात को भिगो दे। माँ की महिमा का वर्णन ऋग्वेद काल से ही चला आ रहा है। जननी जन्म भूमिश्च, स्वर्गादपि गरीयसी। धरती माता जहां हम जन्में हैं वह स्वर्ग से भी... आगे पढ़े

मोदी के दो प्रेरक भाषण

Updated on 3 October, 2014, 10:03
डॉ. वेदप्रताप वैदिक न्यूयार्क में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो भाषण दिए, एक तो संयुक्तराष्ट्र महासभा में और दूसरा मेडिसन चौराहे पर, उन्होंने भारत के राष्ट्रहितों को काफी बल प्रदान किया है। दोनों भाषण हिंदी में देकर मोदी ने यह सिद्ध किया कि वे परदेश के मुकाबले देस को ही प्राथमिकता देते हैं। जो राष्ट्रपति... आगे पढ़े

वैदिक-हफ़ीज़ मिलन के मायने

Updated on 14 July, 2014, 18:10
पत्रकारिता करते हुए दो संवाद अक्सर मुझे उद्वेलित करते हैं . एक ब्रिटेन फ़ॉकलैंड वार में बीबीसी का वक्तव्य -मेरी नज़र में ब्रिटिश और अर्जेण्टीनी विधवाएं एक जैसी हैं, दोनों से समान सहानुभूति है.दूसरा -इराक-इसराइल युध्य (91)जिसे पहली बार दुनिया ने टीवी पर लाइव देखा था, CNN के एक वार... आगे पढ़े